ग्वालियर। 26.07.2022। आज अति. पुलिस महानिदेशक/पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन श्री डी.श्रीनिवास वर्मा,भापुसे द्वारा पुलिस लाईन ग्वालियर का वार्षिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के प्रारंभ में अति. पुलिस महानिदेशक/पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन को क्वाटर गार्ड पर सलामी दी गई, उसके बाद वार्षिक परेड का निरीक्षक किया गया, तद्उपरान्त दरबार लगाकर पुलिस जवानों से रूबरू हुए। इस दौरान पुलिस जवानों द्वारा बताई गई अपनी समस्याओं का उनके द्वारा यथासंभव शीघ्रता से निराकरण करने का आश्वासन देते हुए उपस्थित पुलिस अधिकारियों को जवानों की समस्याओं के निराकरण करने के निर्देश भी दिये। उनके द्वारा विभाग को आवंटित विभिन्न शासकीय वाहनों तथा नवनिर्मित शासकीय भवनों की जानकारी ली। तत्पश्चात् उन्होंने रक्षित निरीक्षक ग्वालियर श्री रंजीत सिंह से पुलिस लाइन की शाखावार जानकारी ली और पुलिस लाईन का भ्रमण भी किया गया। निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक ग्वालियर श्री अमित सांघी,भापुसे, अति. पुलिस अधीक्षक शहर-दक्षिण श्रीमती मृगाखी डेका,भापुसे, अति. पुलिस अधीक्षक शहर मध्य/यातायात श्री अभिनव चौकसे,भापुसे, अति. पुलिस अधीक्षक शहर-पश्चिम श्री गजेन्द्र वर्धमान, अति. पुलिस अधीक्षक शहर-पूर्व श्री राजेश डण्डोतिया, अति. पुलिस अधीक्षक देहात श्री जयराज कुबेर, डीएसपी लाईन श्री विजय भदौरिया के अलावा पुलिस के अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहे।
वार्षिक निरीक्षण हेतु अति. पुलिस महानिदेशक/पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन आज सुबह पुलिस लाइन पहुंचे। यहां सबसे पहले एडीजी/आईजी ग्वालियर जोन को परेड कमाण्डर द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया, उक्त परेड का नेतृत्व रक्षित निरीक्षक ग्वालियर श्री रंजीत सिंह द्वारा किया गया। एडीजी/आईजी ग्वालियर जोन द्वारा परेड का निरीक्षण किया गया तथा बेहतर टर्नआउट के लिये पुलिस जवानों की प्रशंसा करते हुए उन्हे इनाम भी दिया गया। तत्पश्चात उन्होने क्वाटर गार्ड पर हथियारों का निरीक्षण किया और उनकी साफ सफाई को देखा। उन्होंने पुलिस लाइन की एमटी शाखा में पहुंचकर शासकीय वाहनों व टूल किट का भी जायजा लिया। उन्होने निरीक्षण के दौरान वाहनों से संबंधित जानकारी पुलिस अधिकारियों व शाखा प्रभारी से ली, साथ ही उनको सभी शासकीय वाहनों में बलवा ड्रिल की सामग्री रखने हेतु निर्देशित किया। इस दौरान एडीजी/आईजी ग्वालियर ने पुलिस लाइन में ही दरबार लगाया। जहां उन्होंने पुलिस जवानों व अधिकारियों से बारी-बारी से उनकी समस्याओं को गंभीरता से सुना। दरबार में मुख्य रूप से पुलिसकर्मियों ने पदौन्नति, आवास, स्वास्थ्य व अन्य मूलभूत सुविधाओं से एडीजी/आईजी ग्वालियर को अवगत कराया। एडीजी/आईजी ग्वालियर ने पुलिसकर्मियों की समस्या से रूबरू होते ही संबंधित को उक्त समस्याओं का यथासंभव निराकरण किए जाने के लिये निर्देशित किया। उन्होने कहा कि पुलिस विभाग में नियम है कि प्रतिवर्ष पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाना चाहिये, इस हेतु समय-समय पर स्वास्थ्य शिविर आयोजित करने की निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये गये। उन्होने कहा कि पुलिसकर्मियों में कार्य की अधिकता के चलते चिड़चिड़ापन आ जाता है जिसका असर उनके व्यवहार पर दिखता है, अतः ग्वालियर पुलिस द्वारा सभी पुलिसकर्मियों के लिये तनाव प्रबंधन हेतु सेमीनार व प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन कराया जाये। दरबार मे एक पुलिसकर्मी द्वारा एडीजी/आईजी ग्वालियर को अवगत कराया गया कि पुलिस लाइन के शासकीय अस्पताल में पदस्थ चिकित्सक का स्थानांतरण हो जाने से पुलिस कर्मियों व उनके परिजनों को स्वास्थय संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, इस हेतु एडीजी/आईजी ग्वालियर द्वारा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये गये। दरबार के उपरांत एडीजी/आईजी ग्वालियर द्वारा पुलिस लाइन के आवासीय परिसर का भी निरीक्षण किया गया और रक्षित निरीक्षक ग्वालियर को उचित साफ-सफाई कराने के निर्देश दिये।
एडीजी/आईजी ग्वालियर जोन ने कहा कि पुलिस जवानों को अपने व्यवहार में परिवर्तन लाना चाहिए और जवानों को अपनी वर्दी की मान मर्यादा रखनी चाहिए क्योंकि मुसीबत के समय जनता को आप का ही सहारा रहता है। पुलिस की उपस्थिति सदैव भीड़भाड़ वाले इलाकों व चौराहों पर होनी चाहिए, जिससे असमाजिक तत्वों व अपराधियों में पुलिस के प्रति भय व्याप्त होगा। एडीजी/आईजी ग्वालियर ने कहा कि पुलिस कर्मियों को अपने व्यवहार में शालीनता लानी चाहिये साथ ही ड्यिूटी के दौरान थाने में आने वाले फरियादियों से अच्छा व्यवहार करना चाहिये। उसकी शिकायत/फरियाद को शांतिपूर्वक सुनना चाहिये एवं उस पर तत्काल कार्यवाही करना चाहिये। पुलिस कर्मियों को अपराधियों और आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों से कोई संबंध नहीं रखना चाहिये, क्योंकि आपके इस कृत्य से पुलिस विभाग की छवि धूमिल होती है।

पुलिस लाईन के निरीक्षण के बाद अति. पुलिस महानिदेशक/पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन द्वारा पुलिस अधीक्षक ग्वालियर कार्यालय का भी वार्षिक निरीक्षण किया गया। उनके द्वारा कार्यालय के रिकॉर्ड संधारण व जिले के लंबित अपराधों तथा लंबित शिकायतों की समीक्षा की गई। इस अवसर पुलिस अधीक्षक ग्वालियर एवं अन्य पुलिस अधिकारीगण उपस्थित रहे। एडीजी/आईजी ग्वालियर जोन द्वारा पुलिस अधीक्षक ग्वालियर कार्यालय की प्रत्येक शाखा प्रभारी को समक्ष में बुलाकर लंबित प्रकरणों की जानकारी प्राप्त की और उनके यथाशीघ्र निराकरण हेतु निर्देशित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.